samay-ka-mahatva

Vidyarthi Jeevan Mein Samay Ka Mahatva in hindi

यह निबंध vidyarthi jeevan mein samay ka mahatva को hindi में दर्शाता है | Samay ka Sadupyog पर आधारित यह nibandh सभी Class के School Student के लिए  अत्यंत उपयोगी है | यह निबंध विद्यार्थियों को समय का महत्व बताएगा और उन्हें समय का सदुपयोग करने के लिए प्रेरित करेगा  |

भूमिका  :-    एक-एक बूंद के एकत्रित रूप को विशाल सागर के रूप में देखा जा सकता है और जब एक-एक बूंद टपकती है, तो बड़े-से-बड़ा बर्तन भी खाली हो जाता है | उसी प्रकार जीवन भी पल और के मिलने से बना होता है | हर पल, हर क्षण जो बीत जाते हैं, वो फिर कभी भी वापस नहीं आते हैं | समय बीतते हुए अनुमान नहीं होता, लेकिन इन क्षण के बीतने से दिन, सप्ताह, मास और वर्ष बीतते जाते हैं – “ दिवस जात नहीं लागत  बारा “ | रामचरितमानस की यह पंक्ति समय के बीतने  की गति बताती है; समय के बीतने के साथ ही जीवन के दिन भी बीत जाते हैं |

Vidyarthi Jeevan Mein Samay Ka Mahatva in hindi

Vidyarthi Jeevan Mein Samay Ka Mahatva in hindi

विषयविस्तार :-   जो लोग समय की इस गति को नहीं समझते हैं और इसके महत्व को नहीं जानते हैं, समय को नष्ट करते हैं, समय भी उन्हें नष्ट कर देता है | Samay Ka Mahatva के विषय में कबीर दास जी ने कहा है –

काल करे सो आज कर, आज करे सो अब

पल में प्रलय होएगी, बहुरि करोगे कब ||

अंग्रेजी की एक पंक्ति के अनुसार, “ समय और लहर किसी भी की प्रतीक्षा नहीं करते हैं” |  स्पष्ट है कि समय निरंतर बीता चला जाता है | किसी भी कारण से उसकी गति मंद नहीं होती और ना रूकती है जीवन में यदि किसी वस्तु को हानी होती है तो उसकी क्षतिपूर्ति भी की जा सकती है , लेकिन समय की क्षतिपूर्ति कभी भी संभव नहीं हो सकती है | प्राय: लोग कहते हैं कि जिस प्रकार बंदूक से लोग गोली निकल जाने पर वह किसी भी रुप में वापस नहीं आती है | ठीक इसी प्रकार बीता हुआ समय भी किसी भी रूप में वापस नहीं आ सकता है | यह एक ईश्वरीय वरदान है |

Time Management in Hindi : समय के सदुपयोग से सफलता, धन-वैभव तथा सुख-शांति मिलती है | समय का सदुपयोग ही जीवन की उन्नति का एकमात्र आधार है | हमारा प्रत्येक न छन 1 दिन है और प्रत्येक दिन अपने आप में एक जीवन खंड है | इसलिए हमें समय के एक एक पल का सदुपयोग करना चाहिए | इतिहास में ऐसे अनेक उदाहरण है इनसे समय के सदुपयोग की महत्ता स्पष्ट होती है | नेपोलियन के जीवन को देखें तो पल-पल का महत्व समझ में आता है | उसके सेनापति द्वारा युद्ध स्थल पर सेना सहित निर्धारित समय से केवल 5 मिनट देरी से पहुंचने के विलंब ने उसके विश्व विजय के स्वप्न को धूल में मिला दिया और उसे बंदी बना लिया गया गया | वनवास के दौरान भविष्य में युद्ध की संभावना को जानकर अर्जुन ने समय का सदुपयोग करके उस समय में ही अनेक दिव्य अस्त्र शस्त्र इकट्ठे कर लिए जो उसकी विजय का आधार बने | महान वीर पृथ्वीराज चौहान की पराजय का कारण संयोगिता के साथ भोग विलास में दूबे रहना था |

जो व्यक्ति समय को नष्ट करता है, इसका दुरुपयोग करता है, समय उसे बर्बाद कर देता है | किसी काम का समय बीत जाने पर व्यक्ति केवल पश्चाताप ही करता रह जाता है | फसल  के सूख जाने पर वर्षा के होने से कोई ला नहीं होता लाभ नहीं होता |

उपसंहार :विद्यार्थी जीवन में समय  का बहुत महत्व होता है क्योंकि इसी काल में समय के सदुपयोग की आदत डालने से व्यक्ति जीवन भर समयबद्ध रहता है | अतः हमें चाहिए कि हम समय के एक-एक पल का सदुपयोग करें अपनी दिनचर्या की सारिणी बना ले तथा प्रत्येक कार्य नियत समय पर करें |

Samay ka Mahatva पर हमारा निबंध आपको कैसा लगा हमें नीचे कमेंट में लिखकर जरूर बताएं और साथ ही अगर आप हमारे nibandh  से संबंधित कोई सुझाव हमें देना चाहते हैं तो हमें जरूर बताएं |

1

No Responses

Write a response